Header Ads

सी भाषा के सभी ऑपरेटर , All operators of C language

ऑपरेटर

ऑपरेटर के बारे में

ऑपरेटर , 'c' प्रोग्राम में use किये जाने वाले कुछ विशेष चिन्ह होते है , जिन्हें एक निश्चित arithmetical या logical operation करने के लिए use किया जाता है | उदा. c = a+b; उपरोक्त स्टेटमेंट में = तथा + ऑपरेटर्स है तथा ऑपरेटर्स के साथ use किये जाने वाले वेरिएबल्स तथा value को ओपेरंड्स कहा जाता है| अर्थात a तथा b + ऑपरेटर के ओपेरंड्स है तथा c एवं (a+b) = ऑपरेटर्स के ओपेरंड्स है | operator के साथ use किये जाने वाले ओपेरंड्स के आधार पर 'c' प्रोग्रामिंग के विभिन्न ओपेरंड्स को निम्न भागो में बांटा गया है

Operators
unary ऑपरेटर binary ऑपरेटर्स ternary ऑपरेटर
  1. Unary Operator
  2. 'c' programming में use होने वाले ऐसे ऑपरेटर जिनके साथ केवल एक ओपेरंड्स का use किया जाता है unary ऑपरेटर कहलाते है | जैसे : --,++ ,आदि
  3. Binary Operator
  4. ऐसे ऑपरेटर्स जिन्हें use करने के लिए दो ओपेरंड्स की अवश्यकता होती है उन्हें binary ऑपरेटर कहते है जैसे a+b, a-b,आदि
  5. Ternary Operator
  6. 'c' प्रोग्रामिंग में मात्र एक ternary ऑपरेटर होता है इस ऑपरेटर के साथ तीन ओपेरंड्स use किये जाते है | जैसे :और ?

'c' के विभिन्न ऑपरेटर्स को अनेक कार्यों के आधार पर निम्न भागो में वर्गीकृत किया गया है =>

OPERATORS
Arithematic Operator
Relational Operator
Logical Operator
Conditional Operator
Assignment Operator
Increment/Decrement Operator
Access Operator
Special Operator
  1. Arithmetic Operator
  2. 'c' programming में ऐसे ऑपरेटर जिनका use arithmetic ऑपरेटर्स perform करने के लिए किया जाता है , उन्हें arithmetic operator कहते है |
    Addition - +
    Subtraction - -
    Multyply - *
    Divison - /
    Modulus - %
    उपरोक्त ऑपरेटर्स arithmetic ऑपरेटर्स कहलाते है | % ऑपरेटर्स का use शेषफल ज्ञात करने के लिए किया जाता है , तथा %(Modulus) ऑपरेटर का उपयोग int डाटा टाइप के साथ किया जाता है , float डाटा टाइप के साथ % का use नही किया जा सकता है ||
  3. रिलेशनल ऑपरेटर
  4. ऐसे ऑपरेटर्स जिनका use दो या दो से अधिक variable या value के बीच रिलेशन ज्ञात करने के लिए किया जाता है उन्हें रिलेशनल ऑपरेटर्स कहा जाता है , इन ऑपरेटर का use अधिकांशतः कंडीशनल स्टेटमेंट के साथ किया जाता है | जैसे :
    > - Greater Than
    < - Less Than
    >= - Greater Than or equal
    <= - Less than or Equal
    == - Equal to
    != - Not equal
  5. Logical Operator
  6. Logical Operators ऐसे ऑपरेटर्स होते है जिनका use प्रोग्रामिंग में दो या दो से अधिक स्टेटमेंट को combine करने के लिए किया जाता है| जैसे :
    && - AND
    || - OR
    ! - NOT
  7. Conditional Operator
  8. 'c' प्रोग्रामिंग में मात्र एक ही conditional ऑपरेटर होता है | जिसका use प्रोग्राम में condition अप्लाई करके condition के true और फाल्स होने पर डिफरेंट operations perform करने के होता है | जैसे ? :
  9. Assignment operator
  10. इस ऑपरेटर का use राईट साइड के स्टेटमेंट को solve करके लेफ्ट साइड में assign करने के लिए होता है इस ऑपरेटर का use किसी variable में value assign करने के लिए किया जाता है जैसे c=a+b;
  11. Increment/decrement Operator
  12. ये unary ऑपरेटर होते है | अर्थात इन ऑपरेटर के साथ केवल एक ओपेरंड्स का use किया जाता है |इन्क्रीमेंट operator अपने ऑपरेंड की value को एक increse कर देता है , जैसे ++(Increment operator ) तथा decrement ऑपरेटर को एक decrese कर देता है जैसे --(Decrement operator)
  13. Access operator
  14. 'c' प्रोग्रामिंग में दो एक्सेस ऑपरेटर होते है .(डॉट) त्तथा arrow (->) operator | एक्सेस ऑपरेटर्स का use किसी user defined डाटा टाइप के variable द्वारा डाटा के मेम्बर को एक्सेस करने के लिए किया जाता है | जैसे .(डॉट) त्तथा arrow (->)
  15. Special operator
  16. ये 'c' प्रोग्रामिंग के कुछ विशेष ऑपरेटर्स होते है जिनका use कुछ विशेष operations perform करने के लिए किया जाता है जैसे कॉमा (,) और sizeof() आदि
एक टिप्पणी भेजें